Bihar News : शिक्षकों के लिए काम की खबर, आज से ही बदल जाएगी ड्यूटी टाइमिंग; मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया एलान

KK Pathak : शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक ने स्कूल में शिक्षकों की ड्यूटी टाइमिंग को सुबह नौ बजे से पांच बजे तक कर दिया था। इस का मंगलवार को विधानसभा के बजट सत्र में विरोध हुआ। महागठबंधन के विधायकों ने सदन में शिक्षकों की ड्यूटी टाइमिंग बदलने की मांग की।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार।

पिछले कुछ दिनों से बिहार के सरकारी स्कूल के शिक्षक ड्यूटी टाइमिंग को लेकर लगातार विरोध कर रहे थे। चर्चित आईएएस अधिकारी और शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक ने स्कूल में शिक्षकों की ड्यूटी टाइमिंग को सुबह नौ बजे से पांच बजे तक कर दिया था। इस का मंगलवार को विधानसभा के बजट सत्र में विरोध हुआ। महागठबंधन के विधायकों ने सदन में शिक्षकों की ड्यूटी टाइमिंग बदलने की मांग की। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उस वक्त सदन में मौजूद थे। फौरन उन्होंने विपक्ष के विधायकों को कहा कि हमने तो पहले ही कहा था कि शिक्षकों की ड्यूटी टाइमिंग सुबह 10 बजे शाम चार बजे तक कर दिया जाएग। अगर अब तक नहीं हुआ तो मैं आज ही केके पाठक को बुलाकर इसमें सुधार करवाने के लिए कहता हूं।

सीएम बोले- मैं विपक्ष के विधायकों को बधाई देता हूं

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा विपक्ष के विधायकों ने कहा कि अगर अब तक ड्यूटी टाइमिंग में बदलाव नहीं हुआ था तो आपलोगों ने मुझसे क्यों नहीं कहा। उन्होंने कहा कि स्कूलों में सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक की ड्यूटी टाइमिंग गलत है। मैं पहले ही इसको लेकर निर्देश दे चुका हूं। अगर शिक्षा विभाग ने नहीं इसे लागू किया है तो आज से ही इसे लागू करवाता हूं। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम भी स्कूल में पढ़ते थे तो सुबह 10 बजे से चार बजे तक ही पढ़ाई होती थी। इसलिए आज से ही सुबह 10 बजे से चार बजे तक की ड्यूटी टाइमिंग लागू की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं विपक्ष के विधायकों को बधाई देता हूं कि उन्होंने इस बात को प्रमुखता से सदन में उठाया।

सीएम- के आदेश के बाद शिक्षकों ने ली राहत की सांस

वहीं मुख्यमंत्री के इस फैसले से शिक्षकों में खुशी है। शिक्षक संघ का कहना है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार यह आदेश हमलोगों ने हित में है। सुबह नौ बजे से पांच बजे की ड्यूटी टाइमिंग काफी कष्टदायी थी। हमलोगों ने कई बार इस पर आपत्ति जताई लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। इसके उलट कई जगह सुबह 8:45 बजे तक स्कूल पहुंचने का आदेश दे दिया गया था। इससे दूर-दूराज से आने वाले शिक्षकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता था। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा ड्यूटी टाइमिंग में सुधार कराने के एलान से शिक्षकों ने राहत की सांस ली है।

You may also like

Leave a Comment

cropped-republicannews-logo.png

Editors' Picks

Latest Posts

© All Rights Reserved.

Follow us on