Bihar News : 10 हजार को कितने समय में डेढ़ लाख कर सकेंगे? बिहार में बस 10 महीने में हो जाता है ऐसा

रिपब्लिकन न्यूज़, समस्तीपुर

by Republican Desk

Bihar News : बिहार के गांव-गांव में ऐसे बैंक चल रहे हैं। कोई भी खोल सकता है। ऐसी जगह, जहां 10 हजार रुपये 10 महीने में डेढ़ लाख हो जा रहे।

Samastipur में इस ऑफर के कारण सुसाइड

किसी बैंक में पैसा रखें तो कई साल गुजर जाएंगे दोगुना होने में। लेकिन, बिहार में कोई रकम 10 महीने में 15 गुना हो जाती है। यकीन नहीं हो तो समस्तीपुर की यह खबर पढ़ें। एक ऐसी खबर, केंद्र और बिहार- किसी भी सरकार के लिए चौंकाने वाली भी है और कुर्सी पर बैठे दिग्गजों को आइना दिखाने वाली भी। एक शख्स ने बीमारी से परेशानी देख एक समूह से लोन लिया। उसे चुकाने के लिए फिर गांव के एक परिवार से 10 हजार रुपए लोन लिए। 10 महीने में वह लोन डेढ़ लाख रुपए हो गया। पंचायत बैठी तो भी ढाई गुना से ज्यादा, करीब 28 हजार रुपए लौटाने का फैसला हुआ। वह जी-तोड़ मेहनत कर भी पैसे नहीं जुटा पाया तो फंदे पर झूल गया। अब पुलिस भी पहुंची और प्रशासन के अफसर भी।

Bihar Police के सामने आयी यह कहानी

वाकया समस्तीपुर जिले के मोहनपुर थाने के दशहरा पंचायत में सामने आया। यहां बालूपर गांव के एक खेत से गुजर रहे हाई टेंशन बिजली के पोल पर एक अधेड़ का शव लटका मिला। गांव के ही मुन्नी लाल दास के रूप में पहचान होने के बाद सनसनी फैल गई। पुलिस ने शव को जब्त कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इसी दौरान पूछताछ में मृतक की पत्नी चंपा देवी ने बेहद संवेदनशील जानकारी दी। चंपा ने बताया- “पिछले साल परिवार के कई लोग बीमार पड़ गए तो इलाज के लिए पैसे नहीं हो रहे थे। समूह से लोन लिया, लेकिन जीतोड़ मेहनत के बावजूद इतना नहीं बच रहा था कि चुकता किया जा सके। समूह का लोन चुकाने के लिए गांव के ही रंजीत राय की पत्नी प्रियंका देवी से सूद पर 10 हजार रुपए लिए। यह करीब 10 महीना पहले की बात होगी। फिर प्रियंका और रंजीत ने सूद जोड़ कर जब डेढ़ लाख का हिसाब दिया तो धरती खिसक गई। पिछले महीने पंचायत हुई तो 28 हजार रुपए पर बात तय हुई। वह भी बहुत था। इधर पैसा नहीं जुट रहा था और उधर रंजीत-प्रियंका तरह-तरह से प्रताड़ित कर रहे थे। मारपीट भी की गई। आखिर मुन्नी लाल दास ने यह रास्ता चुन लिया।

जब वह मर गया, तब पुलिस भी आई… प्रशासन भी जागा। लेकिन, देखना है कि कितनी देर यह जागे रहते हैं।

Bihar Police को अब भी लिखित आवेदन का इंतजार

कितना भी कुछ हो जाए, पुलिस अपने अंदाज में रहती है। लाश मिल गई। सुसाइड हो या मर्ड- केस तो है। लेकिन, मोहनपुर थाना अध्यक्ष अजीत त्रिवेदी के अनुसार मृतक के परिजनों ने अभी आवेदन नहीं दिया है। आवेदन के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। पुलिस मामले की जांच कर रही है। मृतक की पत्नी चंपा देवी ने पुलिस को बताया- शाम में पति ने कहा कि वह कुछ देर में खेत की ओर से आते हैं, लेकिन देर शाम तक नहीं लौटे। फिर घर के लोग खेत की ओर गए तो देखा वह बिजली के बड़े पोल पर झूले हुए हैं।

You may also like

Leave a Comment

cropped-republicannews-logo.png

Editors' Picks

Latest Posts

© All Rights Reserved.

Follow us on