Bihar News : केके पाठक को हटाने की मांग विधानसभा में भड़के नीतीश कुमार, गुस्से में विपक्ष को कह दी ये बातें

School Timing: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सदन में घोषणा कर दी कि स्कूल में कक्षाएं 10 बजे से चलेंगी और शिक्षकों को 15 मिनट पहले पहुंचना होगा। अब यही नियम लागू होगा।

विधानसभा में विपक्ष के विधायकों पर भड़के नीतीश कुमार।

शिक्षा विभाग की एक चिट्ठी को लेकर बिहार विधानसभा (Bihar Assembly) में फिर से जमकर हंगामा हुआ। स्कूल में शिक्षकों की ड्यूटी की टाइमिंग को लेकर हंगामा करने महागठबंधन के विधायकों ने तो शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक (KK Pathak) को हटाने तक की मांग कर दी। विपक्ष की इस मांग पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) भड़क गए और विपक्ष को जमकर खरी-खोटी सुनाई। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि आप मेरा मुर्दाबाद लगाते हैं, हम आपको जिंदाबाद कहते हैं। जितना बार कहना है कि मुर्दाबाद कहते रहिए, हम आप सबका जिंदाबाद करते रहेंगे। आप जिंदा रहिए और हमको मुर्दा करते रहिए। जितना मुर्दाबाद करिएगा उनता ही खत्म होते रहिएगा। नीतीश कुमार ने गुस्से में कहा कि आप लोग बहुत कम संख्या में सदन में आइएगा। एक सीट भी नहीं मिलेगा। सारा काम सरकार की तरफ से किया जा रहा है। जो गड़बडी थी, सब में सुधार करवा दिया। आपलोग कहते हैं सरकारी अधिकारी (केके पाठक) को हटाइए। यह मांग गलत है। सरकारी अधिकारी हटाने का अधिकार आपके पास नहीं है। इसकी मांग भी गलत है।

अब जानिए, किस आदेश पर विपक्ष ने किया हंगामा 

दरअसल, 28 नवंबर 2023 को शिक्षा विभाग ने आदेश दिया था कि स्कूल की पहली घंटी साढ़े नौ बजे से शुरू होगी। शिक्षकों को शाम पांच तक स्कूल में रुकने की बात कही गई थी। इसके बाद शिक्षक संघ इसका विरोध करने लगे। मंगलवार को सदन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सामने विपक्ष के विधायकों ने शिक्षकों की ड्यूटी टाइमिंग में बदलाव की मांग लेकर हंगामा करने लगे। इसके बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि फौरन शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक को चेंबर में बुलाया और समय में बदलाव करने का आदेश दिया। मुख्यमंत्री ने सदन में घोषणा करते हुए कहा कि स्कूलों का समय सुबह 10 बजे से चार बजे तक कर दिया गया। इसके बाद शिक्षा विभाग ने चिट्ठी जारी कर दी। और, कहा कि स्कूल में अब पहली घंटे साढ़े नौ के जगह 10 बजे से चलेगी।

अगर शिक्षक भी 10 बजे से आएंगे तो वह पढ़ाएंगे कब?

बुधवार को सदन में विपक्ष के विधायकों ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री के आदेश के बावजूद शिक्षकों की ड्यूटी टाइमिंग नहीं बदली। केवल कक्षा संचालन का समय बदला गया है। इसके बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा किअगर बच्चे 10 बजे से पढ़ेंगे तो शिक्षकों को 15 मिनट पहले आना होगा। अगर शिक्षक भी 10 बजे से आएंगे तो वह पढ़ाएंगे कब? जो गड़बड़ करेगा, उसपर कार्रवाई होगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सदन में घोषणा कर दी कि स्कूल में कक्षाएं 10 बजे से चलेंगी और शिक्षकों को 15 मिनट पहले पहुंचना होगा। अब यही नियम लागू होगा।

You may also like

1 comment

Leave a Comment

cropped-republicannews-logo.png

Editors' Picks

Latest Posts

© All Rights Reserved.

Follow us on