Election 2024 : मुंगेर में ललन को मात देने कुख्यात ने रचाई शादी, मैदान में उतरेगी दुल्हनिया

by Republican Desk

Election 2024 में चर्चा बिहार के राजनीति में बाहुबलियों की एंट्री की। मुंगेर लोकसभा सीट पर एक बार फिर बाहुबल का बल देखने को मिलेगा।

अशोक महतो की शादी की तस्वीर

बिहार की राजनीति में बाहुबलियों की एक बार फिर से एंट्री हो रही है। इस बार मुंगेर के सांसद ललन सिंह को हराने के लिए एक कुख्यात ने शादी रचा ली है। 60 साल की उम्र में शादी रचाने वाले इस बाहुबली का नाम है अशोक महतो। अशोक महतो खुद सजायाफ्ता है। ऐसे में उसने अब अपनी दुल्हन को मुंगेर के अखाड़े में उतरने की तैयारी की है। राजद की ओर से अशोक महतो की पत्नी को टिकट मिलने की चर्चा है। हालांकि आरजेडी की ओर से इस मामले में फिलहाल कोई बयान सामने नहीं आया है।

जहानाबाद जेल ब्रेक कांड में है सजायाफ्ता, क्यों रचाई शादी?

60 साल की उम्र में शादी रचाने वाले अशोक महतो का आपराधिक इतिहास बेहद लंबा है। कभी बिहार में अशोक महतो गिरोह का बोलबाला हुआ करता था। अब अशोक महतो ने राजनीति में एंट्री लेने की सोची है। जहानाबाद जेल ब्रेक कांड में अशोक महतो को कोर्ट ने दोषी करार दिया था। इस मामले में सजायाफ्ता होने के कारण अशोक महतो चुनाव नहीं लड़ सकता। इसलिए उम्र के पड़ाव पर अशोक महतो ने शादी रचाई है।

राजो सिंह हत्याकांड में गया जेल, तीन पुलिसकर्मियों की हत्या

बिहार में कभी अशोक महतो गिरोह काफी सक्रिय था। उसका नेतृत्व अशोक महतो ने किया था। इस गिरोह में पिंटू महतो भी शामिल था। अशोक महतो और उसका गिरोह 2005 में लोकसभा सदस्य राजो सिंह की हत्या के लिए जिम्मेदार माना गया। अशोक महतो जेल भी गया। लेकिन 2002 में वह नवादा जेल से भाग गया। जेल से भागने के दौरान पिंटू महतो ने तीन पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी।

Watch Video

अशोक महतो गिरोह : अगड़ी जाति के लोगों की हत्या का आरोप

कहा जाता है कि गिरोह के नेता कुर्मी या कोइरी जाति से रहा करते थे। इस गिरोह को नालंदा, नवादा और शेखपुरा क्षेत्रों में पिछड़ी जातियों का समर्थन प्राप्त था। 1990 के दशक के अंत में बड़ी संख्या में अगड़ी जाति के लोगों की हत्या के लिए अशोक महतो और उसका गिरोह जिम्मेदार था। महतो और गैंगस्टर अखिलेश सिंह के बीच खूनी रंजिश ने बिहार के नवादा, नालंदा और शेखपुरा जिले के सौ से अधिक गांवों को प्रभावित किया था।

मुंगेर की रहने वाली है लड़की, दिल्ली में करती थी जॉब

कुख्यात अशोक महतो 17 साल के बाद जेल से छूटा है। मंगलवार की रात उसने शादी की है। यह शादी पटना के बख्तियारपुर स्थित करौटा के जगदंबा स्थान मंदिर में रचाई गई है।

लड़की दिल्ली में करती थी जॉब

मुंगेर के बरियापुर गांव निवासी युवती से अशोक महतो ने यह शादी रचाई है। लड़की दिल्ली में रहकर जॉब कर रही थी। अशोक महतो खुद नवादा जिला के वारसलीगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत कोननपुर गांव का रहने वाला है। चर्चा है कि आरजेडी से अशोक महतो अपनी पत्नी को मुंगेर सीट से चुनावी मैदान में उतारने की तैयारी में है।

You may also like

Leave a Comment

cropped-republicannews-logo.png

Editors' Picks

Latest Posts

© All Rights Reserved.

Follow us on