Lalu Yadav जिस देवी दुर्गा की पूजा करते दिखे, RJD MLA ने उनके बारे में इतनी गंदी बातें कही!

by Republican Desk

Bihar News में अब भी Navratri की खबरें चल रही हैं, लेकिन इस बार सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनता दल के विधायक की गंदी बात खबरों में है।

उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के करीबी माने जाते हैं विधायक फतेह बहादुर।

राष्ट्रीय जनता दल (RJD Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (Lalu Yadav) पिछले दिनों नवरात्र में देवी दुर्गा की पूजा करते दिखे थे और रावण वध के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के साथ गांधी मैदान में तीर भी चला रहे थे। लेकिन, दूसरी तरफ उनके बेटे डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के करीबी राजद विधायक फतेह बहादुर (RJD MLA Fateh Bahadur) ने देवी दुर्गा को लेकर घनघोर आपत्तिजनक बातें कही हैं। वह अपनी बातों पर अडिग भी हैं। इसपर हो रहे विरोध से पहले यह जानिए कि उन्होंने कहा क्या-क्या? हम उन बातों को छिपा ले रहे हैं, जिन्हें लिखना या बोलना भारतीय परंपरा में सनातन हिंदू (Sanatan Hindu) धर्म के खिलाफ है। डेहरी निवासी पंकज कुमार ने डेहरी नगर थाना में विधायक के विरुद्ध प्राथमिक दर्ज करने का आवेदन दिया है।

क्या कहा है तेजस्वी के करीबी राजद विधायक ने
रोहतास जिले के डिहरी से राजद विधायक और तेजस्वी यादव के करीबी इस नेता ने बुधवार को कहा- “दुर्गा कौन थी…दुर्गा का उत्पत्ति कैसे हुआ? दुर्गा का उत्पत्ति सारे देवताओं ने मिलकर… जिसमें शंकर जी भी थे, महिषासुर को मारने के लिए सारे देवताओं ने मिलकर दुर्गा का एक प्रकार से बोलिए कि आविष्कार किया। तो दुर्गा को जो देवता ने आविष्कार किया तो सभी देवताओं का दुर्गा बेटी हुई। लेकिन दुर्गा सिंदूर क्यों लगाती है? और मनुवादी कहता है कि दुर्गा शंकर भगवान की पत्नी है! जबकि शंकर भगवान ने ही आविष्कार किया। इसका मतलब कि ### बनाया। ई सब मनुवादियों का षडयंत्र है और महिषासुर को दुर्गा को हत्या करने के लिए इनलोगों ने उपयोग किया है और महिषासुर का वध नहीं हत्या हुआ है। ये मनुवादी लोग बताने का काम करेगा कि कौन-सा मैदान में महिषासुर के साथ में दुर्गा ने युद्ध किया? और रात्रि में कौन युद्ध करने जाती थी उसके यहां?

लालू पूजा का ढोंग करते हैं, आस्था नहीं है उनकी
राजद विधायक के इस बयान का वीडियो वायरल होने के बाद रोहतास से विरोध की आग लगने लगी। भाजपा और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह प्रदर्शन किया और विधायक का पुतला फूंका। इन संगठन के नेताओं ने कहा कि राजद के नेता सनातन हिंदुओं की धार्मिक आस्था पर लगातार प्रहार कर रहे हैं और इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कभी रामायण तो कभी हमारे देवी-देवाताओं पर ओछी टिप्पणी की जा रही है। सनातन धर्म से जुड़े संगठनों ने इसपर कड़ा प्रतिरोध जारी रखने का एलान किया है। संगठनों का कहना है कि कभी राजद के नेता रामचरितमानस के प्रसंगों और पात्रों के खिलाफ अनर्गल बातें कहते हैं तो कभी देवी-देवताओं का मजाक बनाते हैं। अब ऐसी घनघोर आपत्तिजनक टिप्पणी के बावजूद पार्टी के प्रमुख लालू यादव चुपचाप हैं तो इसका मतलब वह पूजा का ढोंग करते हैं, उनकी आस्था नहीं है।

You may also like

Leave a Comment

cropped-republicannews-logo.png

Editors' Picks

Latest Posts

© All Rights Reserved.

Follow us on