Bihar News : Patna में अतिक्रमण हटाने के दौरान भारी बवाल, कई सिलेंडर ब्लास्ट, रोड़ेबाजी से भगदड़

by Republican Desk

Bihar News में इस वक्त की बड़ी खबर राजधानी पटना से आ रही है। दानापुर में अतिक्रमण हटाने के दौरान भारी बवाल हुआ है। उपद्रवियों ने झोपड़ियों में आग लगा दी। देखते ही देखते आग ने कई सिलेंडर को अपने आगोश में ले लिया। 5 सिलेंडर ब्लास्ट की बात कही जा रही है।

दानापुर में अतिक्रम हटाने के दौरान आगजनी

राजधानी पटना के दानापुर में अतिक्रमण हटाने गई पुलिस-प्रशासन की टीम को बड़ा बवाल झेलना पड़ा है। प्रखंड कार्यालय परिसर में अतिक्रमण खाली करवाने के दौरान कुछ असमजिक तत्वों ने झोपड़ियों में आग लगा दिया। लिहाजा आग की लपटों ने एक-एक कर कई रसोई गैस सिलेंडर को आगोश में ले लिया। अब तक 5 सिलेंडर ब्लास्ट की खबरें सामने आई हैं। इस घटना में कुछ लोग घायल भी हुए हैं। एक स्थानीय पत्रकार भी जख्मी बताए जा रहे हैं। घटना के बाद से इलाके में दहशत है।

अंचल कार्यालय की जमीन पर था अवैध कब्जा, डीएम के निर्देश पर एक्शन

दानापुर में अंचल कार्यालय की जमीन पर बाढ़ कटाव पीड़ित विस्थापितों का अवैध कब्जा था। यहां तकरीबन 159 घर बनाए गए थे। इन घरों में करीब 600 लोग रहते थे। वर्ष 2012 में दानापुर दियारा के पानापुर पंचायत बाढ़ कटाव पीडितों को अस्थाई तौर पर बसने की अनुमति दी गई थी। कोर्ट की सख्ती के बाद पटना के डीएम ने सरकारी जमीन को अतिक्रमण मुक्त करने का निर्देश दिया था।

असमाजिक तत्वों ने लगाई आग, नोटिस के बाद भी नहीं कर रहे थे खाली : SDO

एसडीओ प्रदीप कुमार ने बताया कि घर खाली करने के दौरान कुछ असामाजिक तत्वों ने आग लगा दी। इस कारण सिलेंडर ब्लास्ट हुआ है। एसडीओ ने बताया कि आग लगाने वालों की पहचान की जा रही है। उनके खिलाफ कार्रवाई होगी। अतिक्रमणकारियों ने पुलिस बल पर रोड़ेबाजी भी की है। रोड़ेबाजी में पुलिस जवानों के साथ ही एक पत्रकार रंजीत कुमार भी जख्मी हुए हैं। एसडीओ ने बताया कि भूमिहीनों को जमीन मुहैया कराए जाने के बाद कई बार सरकारी जमीन से अतिक्रमण हटाने को कहा गया था। सभी को कई बार नोटिस भी जारी किया गया। लेकिन ये लोग आदेश का उल्लंघन कर अतिक्रमण हटाने को तैयार नहीं थे।

दावा : महादलित बोले – नहीं मिली है जमीन, CO बोले – 114 परिवारों को जमीन आवंटित

प्रखंड कार्यालय परिसर में अतिक्रमण के दौरान हुए भीषण बवाल के बीच प्रशासन और पीड़ितों के अपने-अपने दावे हैं। महादलित परिवारों का कहना है कि सरकार ने सभी परिवारों को जमीन आवंटित नहीं की है। जिन्हें जमीन दी गई है, वो जमीन गड्ढा है। ऐसे में वहां रहना संभव नहीं है। जबकि दूसरी तरफ दानापुर के CO अमृत राज बंधु का दावा है कि 159 में से 114 परिवारों को मनेर थाना क्षेत्र के महिनावा में जमीन आवंटित की जा चुकी है। शेष 45 परिवारों को नोटिस देकर कागजात की मांग की गई है।

You may also like

Leave a Comment

cropped-republicannews-logo.png

Editors' Picks

Latest Posts

© All Rights Reserved.

Follow us on