Bihar News : मोबाइल दुकानदार व स्टाफ को मारी गोली, Patna में खुलेमाम तांडव, खोखा भी चुनकर ले गए

by Republican Desk

Bihar News में एक बार फिर पढ़िए Patna में Crime की ऐसी खबर जिसने Police के दावों की पोल खोल दी है। मोबाइल ठीक करने में देरी हुई तो दुकानदार और उसके स्टाफ को गोली मार दी गई। इतना ही नहीं, बेखौफ अपराधी खोखा तक चुनकर ले गए और पुलिस थाने में सोती रही।

वारदात के बाद मौके पर जांच करती पुलिस

बिहार पुलिस Crime कंट्रोल के चाहे जितने दावे कर ले, लेकिन जब राजधानी Patna में अपराधियों के तांडव की ऐसी खबर सामने आ रही है तो अन्य इलाकों का हाल आप खुद समझ सकते हैं। पटना के कदमकुआं थाना अंतर्गत मुसल्लहपुर में पटेल छात्रावास के गुंडों ने एक मोबाइल दुकानदार और उसके स्टाफ से पहले मारपीट की और फिर उन्हें गोली मार दी। विवाद की वजह बस इतनी थी कि दुकानदार ने मोबाइल ठीक करने में देरी की थी। अपराधियों की संख्या करीब 20 से 25 बताई जा रही है। अपराधी इस कदर बेखौफ थे कि मौका-ए-वारदात से खोखा तक चुनकर ले गए।
अपराधियों का यह तांडव रविवार की रात देखने को मिला। कदमकुआं थाना क्षेत्र के मुसल्लहपुर में सन्नी मोबाइल सेंटर के मालिक रौशन कुमार और उसके स्टाफ सोनू को गोली मारी गई है। दोनों खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं। हालांकि, वारदात के 12 घंटे बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं।

पटेल छात्रावास के गुंडों का आतंक, पहले की मारपीट, फिर मारी गोली

सन्नी मोबाइल सेंटर के मालिक रौशन की मुसल्लहपुर में दो दुकानें हैं। वह मोबाइल के रिपेयरिंग और पार्ट्स बेचने का काम करता है। पटेल हॉस्टल के एक छात्र ने रौशन को मोबाइल ठीक करने दिया था। रविवार की शाम वह छात्र रौशन के पास पहुंचा और कहा कि मोबाइल में खराबी है। फिर से ठीक करो। इसपर रौशन ने मोबाइल अपने पास रख लिया और उसे बाद में आने की बात कही। इतने में वह छात्र रौशन से उलझ गया। दोनों के बीच कहासुनी होने लगी। इसके बाद छात्र रौशन को देख लेने की धमकी देकर हॉस्टल चला गया। लेकिन, कुछ ही देर बाद करीब 20 से 25 लड़कों के साथ वह फिर से दुकान पर पहुंचा और सभी मिलकर रौशन को पीटने लगे। इस बीच अपने मालिक को बचाने पहुंचे सोनू को भी पटेल छात्रावास के गुंडों ने पीटना शुरू कर दिया। मारपीट में रौशन का सिर फट गया। फिर बेखौफ गुंडों ने रौशन और सोनू पर गोली चला दी।

दनादन चलीं 7 से 8 राउंड गोली, खोखा भी चुनकर ले गए

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि बेखौफ अपराधियों ने करीब 7 से 8 राउंड गोलियां चलाई। एक गोली सोनू की बांह में लगी। जबकि एक गोली रौशन को छूकर निकल गई। रौशन को पीएमसीएच में भर्ती करवाया गया है। अपराधी इतने बेखौफ थे कि ताबड़तोड़ फायरिंग करने और दोनों को गोली मारने के बाद खोखा भी चुनकर ले गए। वारदात के बाद इलाके में दहशत का माहौल है। पटेल छात्रावास के गुंडों की कारगुजारी के खिलाफ खुलकर कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं है। दुकानदारों का कहना है कि अगर उन्होंने जुबान खोली तो उनकी हत्या कर दी जाएगी। हॉस्टल के छात्र अक्सर ऐसी वारदात को अंजाम देते हैं। यहां तक कि वे बम चलाने में भी देर नहीं करते। पुलिस भी उनका कुछ नहीं बिगाड़ पाती। ऐसे में अपनी मौत को दावत कौन देगा।

पुलिस का दावा : हॉस्टल में दी गई दबिश, नहीं मिले गोली चलाने वाले छात्र

पटना पुलिस अपराधियों के आगे किस कदर नतमस्तक है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि अपराधी खुलेआम गोलियां बरसाते हैं और फिर बड़े ही आराम से खोखा तक चुनकर ले जाते हैं। इसके बावजूद पुलिस के हाथ कोई अपराधी नहीं आता। पुलिस का दावा है कि घटना की जानकारी के बाद हॉस्टल में दबिश दी गई। लेकिन किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी। पुलिस का कहना है कि गोली चलाने वाले अपराधियों की शिनाख्त की जा रही है।

You may also like

Leave a Comment

cropped-republicannews-logo.png

Editors' Picks

Latest Posts

© All Rights Reserved.

Follow us on