Bihar News : बेगूसराय Police का खौफ, 1829 माफिया गिरफ्तार, 70 हजार लीटर शराब बरामद, 4 लाख के जाली नोट मिले, 66 लाख का जुर्माना

by Republican Desk

Bihar News में अभी बात वर्ष 2023 के अपराध के आंकड़े पर। बेगूसराय पुलिस की सख्ती आंकड़े में दिख रही है। हत्या और लूट जैसी वारदातों में 25 से 30 फीसदी की कमी और जुर्माने में 66 लाख से अधिक वसूली की गई है। इस खबर में हम यह भी समझने की कोशिश करेंगे कि बेगूसराय के एसपी आईपीएस योगेन्द्र कुमार ने आखिर किस फॉर्मूले के तहत क्राइम कंट्रोल की मिसाल कायम की है।

एसपी योगेंद्र कुमार ने प्रिवेंशन ऑफ क्राइम और डिटेक्शन ऑफ़ क्राइम पर बराबर फोकस किया

बिहार में अपराध पर लगाम कसने की कवायदों के बीच बेगूसराय पुलिस की सख्ती सामने आई है। आंकड़े बता रहे हैं की बेगूसराय पुलिस ने 2022 के बजाय वर्ष 2023 में बेहतरीन रिजल्ट दिए हैं। नतीजतन, पॉक्सो एक्ट जैसे गंभीर अपराधों में सजा पाने वालों की संख्या बढ़ गई है। वहीं, हत्या और लूट जैसी वारदातों में 25 से 30 फ़ीसदी की कमी आई है। इतना ही नहीं, नशे के काले कारोबार पर भी बेगूसराय पुलिस ने गंभीर चोट किया है। यही वजह है कि न सिर्फ शराब माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई की गई है, बल्कि गांजा और चरस जैसे मादक पदार्थों की भी बरामदगी हुई है। अपराध के अनुसंधान में भी बेगूसराय पुलिस ने बेहतरीन नतीजा सामने रखा है।

नाबालिग से यौन अपराध : 49 कांडों में 70 अभियुक्तों को सजा

अपराध के दृष्टिकोण से बेहद गंभीर माने जाने वाले नाबालिक के साथ यौन अपराध के कांड में बेगूसराय पुलिस ने अपराधियों को सजा दिलाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। स्पीडी ट्रायल के तहत वर्ष 2023 में नाबालिक से यौन अपराध यानी पॉक्सो एक्ट में सजा दिलाने के मामले में पुलिस ने अहम सफलता हासिल की है। 49 कांडों में 70 अभियुक्तों को सजा दिलवाकर पुलिस ने न्याय तंत्र को मजबूत किया है।

शराब माफियाओं पर कहर : 1829 माफिया गिरफ्तार, 4 लाख के जाली नोट बरामद

शराब माफियाओं के खिलाफ बेगूसराय पुलिस ने कार्रवाई करते हुए बड़ी सफलता हासिल की है। अवैध शराब के खिलाफ 1082 कांड दर्ज किए गए हैं। इन मामलों में 1829 शराब माफिया की गिरफ्तारी हुई है। जबकि शराब के धंधे में शामिल 168 गाड़ियों को जप्त किया गया है। अगर जप्त शराब के आंकड़ों को देखेंगे तो यह साफ हो जाएगा कि पुलिस ने माफियाओं की कमर तोड़ने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। वर्ष 2023 में 70819.59 लीटर विदेशी शराब और 8039.68 लीटर देशी शराब जप्त किया गया है। जाली नोट के धंधे पर भी बेगूसराय पुलिस ने गहरा चोट किया है। वर्ष 2023 में पुलिस ने चार लाख के जाली नोट बरामद किए हैं। अपराध नियंत्रण के लिए चलाए गए वाहन चेकिंग अभियान के आंकड़ों पर गौर करें तो आप चौक पड़ेंगे। पुलिस ने चालान से 66 लाख 29 हजार रुपए वसूल किए हैं। वहीं, 231 हथियारों की बरामदगी हुई है।

हत्या में 25 फीसदी तो लूट में 30 फीसदी की आई कमी

अपराध की दुनिया में हत्या और लूट को बेहद गंभीर माना गया है। ऐसे में बेगूसराय एसपी योगेंद्र कुमार के नेतृत्व में पुलिस ने हत्या और लूट पर भी लगाम लगाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। वर्ष 2022 में 112 हत्याएं हुई थी। जबकि वर्ष 2023 में यह आंकड़ा सिर्फ 85 रहा। यानी, हत्या में लगभग 25 फीसदी की कमी आई है। वहीं, लूट की बात करें तो वर्ष 2022 में लूट की 77 वारदातें हुई थी। जबकि वर्ष 2023 में घटकर वारदातों की संख्या 54 हो गई। मतलब, लूट की वारदातों में भी 30 फीसदी की कमी आई है।

आईपीएस योगेन्द्र कुमार का फॉर्मूला : प्रिवेंशन और डिटेक्शन पर बराबर फोकस

बिहार में अपराध पर मचे बवाल के बीच बेगूसराय पुलिस के आंकड़े आपको भले ही चौंकाने वाले लगें, लेकिन इसके पीछे बेगूसराय के एसपी आईपीएस योगेंद्र कुमार की अहम रणनीति है। एसपी योगेंद्र कुमार ने प्रिवेंशन ऑफ क्राइम और डिटेक्शन ऑफ़ क्राइम पर बराबर फोकस किया है।

डायल 112 की टीम क्विक रिस्पॉन्स देने के मामले में पहले स्थान पर रही

क्राइम मीटिंग के दौरान एसपी ने थानेदारों और तमाम एसडीपीओ को एक तरफ जहां अपराध का अनुसंधान कर अपराधियों को जल्द सजा दिलाने की हिदायतें दीं। वहीं दूसरी तरफ अपराध पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस को सड़क पर मुस्तैद रहते हुए एक्शन में आने के निर्देश भी दिए। यही वजह है कि बेगूसराय में डायल 112 ने शानदार प्रदर्शन किया। राज्यभर में कई बार बेगूसराय पुलिस की डायल 112 की टीम क्विक रिस्पॉन्स देने के मामले में पहले स्थान पर रही और बेगूसराय डायल 112 की टीम को पुरस्कृत भी किया गया।

आंकड़ों से समझिए : कैसे लगा अपराध पर लगाम

Speedy Trial, बेहतर अनुसंधान एवं अभियोजन के कार्यो की लगातार समीक्षा के फलस्वरूप वर्ष 2023 में नाबालिग से यौन अपराध (Pocso Act) में सजा में आई वृद्धि। 49 कांडों में 70 अभियुक्तों को दिलवाई गई सजा।

विचारण पूर्ण वादों की संख्या

2022-19

2023-49

158% की वृद्धि

सजा पाये अपराधियों की संख्या

2022-30

2023-70

134% की वृद्धि

आजीवन कारावास की सजा

2022-2

2023-8

300% की वृद्धि

10 वर्ष से अधिक की सजा

2022-8

2023-18

125% की वृद्धि

10 वर्ष से कम की सजा

2022-20

2023-44

120% की वृद्धि

वर्ष-2023 में बेगूसराय पुलिस की उपलब्धियां एवं आंकड़े :-

अनुसंधान

कुल FIR दर्ज -6844

निष्पादन -7315

अवैध शराब के विरुद्ध कारवाई

दर्ज कांड-1082

शराब माफिया गिरफ्तारी -1829

शराब के धंधे से जप्त वाहन -168

जप्त शराब (देशी):- 8039.68 ली०

विदेशी :- 70819.59 ली0

अपराधियों की गिरफ्तारी

गिरफ्तारी:-8861

जेल:-5808

मादक पदार्थ

गांजा 98.199 कग

चरस -0.0065 कग

दर्ज कांड :-26

गिरफ्तारी :-29

जाली नोट

बरामद जाली नोट:- 4 लाख

Anti crime vechicle checking

चलान :- 66,29,000 रूपये

जप्त हथियार :- 231

जप्त गोली :-796

जप्त बम :-05

साल भर चले अपराध नियंत्रण एवं वाहन चेकिंग अभियान के फलस्वरूप अपराध में आई कमी

जप्त हथियार :-231

जप्त गोली :- 796

जप्त बम :-05

वर्ष 2023 में चलान की गई कुल राशि – 66.29 लाख

हत्या

वर्ष 2022 – 112

वर्ष 2023 – 85

25% की कमी

लूट

वर्ष 2022 – 77

वर्ष 2023 – 54

30% की कमी

बेगूसराय ट्रैफिक पुलिस के द्वारा यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले पर Online चलान July से शुरू

चलान की गई राशि

वर्ष 2022 – 22.55 लाख

वर्ष 2023 – 66.29 लाख

194% की वृद्धि

2023(जनवरी) -1,20,000/-

2023(फरवरी)-1,02,500/

2023(मार्च)- 100,000/

2023(अप्रैल )-1,21,000/-

2023(मई)-1,37,000/-

2023(जून)- 2,12,000/-

2023(जुलाई)-687000/-

2023(अगस्त)-8,01500/-

2023(सितंबर)-13,27000/-

2023(अक्टूबर)-13,77500/-

2023(नवंबर)-7,46000/-

2023(दिसंबर)-8,97,500/-

You may also like

Leave a Comment

cropped-republicannews-logo.png

Editors' Picks

Latest Posts

© All Rights Reserved.

Follow us on