Bihar Police : गृह विभाग ने 523 अफसरों की पोस्टिंग कहां दी, देखें सूची; सीएम नीतीश ने सौंपा नियुक्ति पत्र

Bihar Police के लिए 29 फरवरी बड़ा दिन रहा। अपराध नियंत्रण कानून की शक्तियों के साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार ने बहुत कुछ दिया है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नवनियुक्ति कर्मियों को नियुक्ति पत्र भी दिया।

Bihar Police को संसाधनों के साथ मिला मानव-संसाधन भी

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने गुरुवार को बिहार सरकार (Bihar Government) के गृह विभाग 523 सहायक अभियोजन पदाधिकारी और 20 पुलिस उपाधीक्षकों (Bihar Police) को नियुक्ति पत्र सौंपा। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने गुरुवार को ही इमरजेंसी रिस्पांस सपोर्ट सिस्टम (ERSS) परियोजना ( Dial 112) के तहत 1,433 पुलिस वाहनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। आपकी सुरक्षा, हमारी जिम्मेदारी के तहत आपात नंबर सेवा 112 के प्रथम चरण का विस्तारीकरण एवं द्वितीय चरण के क्रियान्वयन के लिए 1,433 पुलिस वाहनों में 883 चार पहिया वाहन एवं 550 दो पहिया वाहन शामिल हैं।

सांकेतिक रूप से 14 अधिकारियों को दिया नियुक्ति पत्र

मुख्यमंत्री ने सांकेतिक रूप से 14 नवनियुक्त अधिकारियों खालिद हयात, शिवानी श्रेष्ठा, सांवली सांकृत्यायन, मनाली तिवारी, नंदिनी कुमारी, निशांत कुमार, ऋषभ आनंद, पूजा शर्मा, इशानी सिन्हा, निशु कुमार, राजन कुमार, खुशबू, अंशु आनंद एवं दीपक कुमार पासवान को नियुक्त पत्र प्रदान किया। मुख्यमंत्री ने नवनियुक्त अधिकारियोंसे मुलाकात कर उनका अभिवादन स्वीकार किया। सभी 523 अफसरों की पोस्टिंग देखने के लिए यहां क्लिक करें

इससे पहले, बिहार पुलिस को संसाधन देने पहुंचे सीएम नीतीश

24 घंटे पुलिसिंग में सहायता देने वाले संसाधन मिले
1 अणे मार्ग प्रांगण में आयोजित लोकार्पण कार्यक्रम में अपर पुलिस महानिदेशक वितंतु एवं तकनीकी सेवा निर्मल कुमार आजाद ने मुख्यमंत्री को पौधा भेंटकर उनका अभिनन्दन किया। इसके बाद कार्यक्रम की शुरुआत हुई और मुख्यमंत्री ने एक-एक कर संसाधनों का बेड़े का लोकार्पण किया। इन वाहनों के डायल-112 में शामिल होने के बाद अब कुल 1,833 पुलिस वाहनों के साथ-साथ 1,586 एम्बुलेंस सेवा एवं 805 अग्निशमन सेवा के वाहन एकीकृत रूप से जन कल्याणकारी, आपाताकालीन सेवा डायल-112 के तहत 24 घंटे कार्यरत रहेंगे। गुरुवार को मिल 1,433 पुलिस वाहनों में 5-जी टेक्नोलॉजी एवं अत्याधुनिक GPS डिवाइस भी लगाये गये हैं, जिसके माध्यम से वाहनों का लोकेशन पटना स्थित कमांड एंड कंट्रोल सेन्टर से ट्रैक करने के अलावा समन्वय भी स्थापित किया जा सकेगा।

पटना स्थित कमांड एंड कंट्रोल सेन्टर के नेटवर्क स्पीड को 50 एम०बी०पी०एस० से बढ़ाकर 300 एम०बी०पी०एस० किया गया है। डाटा सर्वर को भी उत्क्रमित किया जा रहा है। डायल-112 की सुविधा प्राप्त करने हेतु पीड़ित व्यक्ति ई-मेल, 112 ऐप, पैनिक बटन एवं एस०एम०एस० के माध्यम से आपातकालीन सेवा प्राप्त कर सकता है। डायल-112 आपातकालीन सेवा पुलिस सहायता, अगलगी की घटना, चिकित्सा सहायता, महिलाओं, बच्चों एवं वरिष्ठ नागरिकों को मदद पहुंचाने में काफी कारगर साबित हो रही है।

इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री सम्राट चौधरी, उप मुख्यमंत्री विजय कुमार सिन्हा, शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार, मुख्य सचिव आमिर सुबहानी, पुलिस महानिदेशक आरएस भट्टी, गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव-सह-मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ० एस० सिद्धार्थ, मुख्यमंत्री के सचिव अनुपम कुमार, गृह विभाग के सचिव प्रणव कुमार, मुख्यमंत्री के विशेष कार्य पदाधिकारी गोपाल सिंह सहित अन्य वरीय अधिकारीगण उपस्थित थे।

कोर्ट के दरवाजे पर इतना बड़ा तांडव!

KK Pathak पर मचा बवाल, क्या करें नीतीश?

You may also like

Leave a Comment

cropped-republicannews-logo.png

Editors' Picks

Latest Posts

© All Rights Reserved.

Follow us on