Bihar News : KK Pathak के खिलाफ हत्या की साजिश का दर्ज हो FIR, बच्चों की मौत पर Police में शिकायत, पटना DM ने दिखाए तल्ख तेवर

by Republican Desk

Bihar News में इस वक्त खबर IAS KK Pathak से जुड़ी हुई। सूबे में ठंड के बावजूद स्कूल खोलने के आदेश के बाद बच्चों की मौत से केके पाठक घिर गए हैं। उनके खिलाफ हत्या की साजिश रचने का मुकदमा दर्ज करने की मांग हो रही है।

तुगलकी फरमान ने ले ली बच्चों की जान

बिहार में भीषण शीतलहर के बावजूद बच्चों को स्कूल बुलाना जानलेवा साबित हो रहा है। कई जगह से ठंड लगने के कारण बच्चों की मौत की खबर सामने आई है। इस बीच एक तरफ जहां पटना के डीएम डॉक्टर चंद्रशेखर ने सीधे तौर पर शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। वहीं दूसरी ओर अब केके पाठक के खिलाफ हत्या की साजिश रचने समेत कई अन्य संगीन आरोपों में एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई है। बिहार लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम को पटना के रहने वाले प्रभाष चंद्र शर्मा ने एक शिकायत दी है। इसके जरिए उन्होंने लखीसराय के कजरा थाना अध्यक्ष से एफआईआर दर्ज करने की मांग की है।

पटना के एसके पूरी थाना व लखीसराय के कजरा थाने में एफआईआर का आवेदन

पटना के श्री कृष्णापुरी थाना अंतर्गत बोरिंग रोड निवासी सामाजिक कार्यकर्ता प्रभाष चंद्र शर्मा ने बिहार लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम के तहत एक शिकायत दर्ज कराई है। इस शिकायत की सुनवाई 5 फरवरी 2024 को होनी है। शिकायत में प्रभाष चंद्र शर्मा ने बताया है कि शीतलहर के प्रकोप के आलोक में सभी जिलाधिकारियों द्वारा कक्षा 8 तक के विद्यार्थियों के लिए विद्यालय बंद करने का आदेश दिया गया था। लेकिन शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक ने सभी विद्यालयों को खोलने का आदेश जारी कर दिया।

शिकायत करने वाले सामाजिक कार्यकर्ता प्रभाष चंद्र शर्मा

इस आलोक में प्रभाष चंद्र शर्मा ने केके पाठक के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का संयंत्र रचने संबंधी एक आवेदन 22 जनवरी को श्री कृष्णापुरी थाने को दी थी। इस बीच स्कूल खोल दिया गया। प्रभाष चंद्र शर्मा का आरोप है कि शीत लहर के कारण तीन बच्चों की मौत का मामला अखबार से उनके संज्ञान में आया है। इनमें एक बच्चा लखीसराय के कजरा थाना अंतर्गत श्रीघन निवासी चुन्नू मंडल का पुत्र रणवीर कुमार भी शामिल है। इसलिए आवेदन में कजरा थाना अध्यक्ष से केके पाठक के खिलाफ उचित कानूनी धाराओं में एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई है।

पटना डीएम डॉ चंद्रशेखर से भिड़ना पाठक को पड़ा महंगा, पढ़ाया कानून का पाठ

शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक और पटना डीएम डॉक्टर चंद्रशेखर के बीच तनातनी जग जाहिर है। बिहार में एकमात्र पटना ही एक ऐसा जिला है जहां के डीएम ने सीधे तौर पर केके पाठक से आमना-सामना करने की ठान ली है। यही वजह है कि डीएम डॉक्टर चंद्रशेखर ने बच्चों की सेहत का ख्याल रखते हुए स्कूल को बंद करने का फैसला ले लिया। लेकिन यह बात केके पाठक को नागवार गुजरी।

पटना डीएम डॉ चंद्रशेखर ने केके पाठक को पढ़ाया कानून

शिक्षा विभाग ने डीएम डॉक्टर चंद्रशेखर को हाईकोर्ट में घसीटने की धमकी दे डाली। वहीं डीएम डॉक्टर चंद्रशेखर भी कहां पीछे हटने वाले थे। उन्होंने सीधे मुख्य सचिव को पत्र लिखकर विभाग की इस करस्तनी से अवगत कराते हुए मामले में तत्काल दखल देने की मांग की।

You may also like

Leave a Comment

cropped-republicannews-logo.png

Editors' Picks

Latest Posts

© All Rights Reserved.

Follow us on